Hindi (India)English (United Kingdom)
stairs copy.jpg

सिंहावलोकन

राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरी संस्थान (नीटी) किसी अन्य भारतीय विश्वविद्यालय के पी एच डी के समकक्ष मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त एक डॉक्टरी स्तर का फेलोशिप कार्यक्रम ऑफर करती है । यह कार्यक्रम किसी व्यक्ति को शैक्षणिक, अनुसंधान, व्यवसाय एवं परामर्श में कैरियर के लिए पर्याप्त सक्षम बनाता है ।

नीटी का फेलो प्रोग्राम १९८० में शुरु हुआ था तब से लगभग ५० फेलोशिप (डॉक्टरी) की डिग्रियॉ दी गई हैं । फेलोशिप कार्यक्रम के पूर्व विद्यार्थियों को शैक्षणिक संस्थानों एवं उद्योग में स्थान प्राप्त होता है । इस समय ६० से अधिक उम्मीदवारों ने इसके लिए नामांकन दिया है और हर साल औसतन ४ फेलोशिप दी जाती है । यह कार्यक्रम अंतर अनुशासनिक प्रकृति का है । जिसमें प्रबंधन, एर्गोनामिक्स और पर्यावरण प्रबंधन के सभी क्षेत्र कवर किए गए है ।

यह कार्यक्रम बहु आयामी प्रकृति का है और व्यापक आधार वाला है जो विभिन्न समसामयिक औद्योगिक, व्यावसायिक एवं सामाजिक मुद्दों को शामिल करता है । यह कार्यक्रम उद्योग, शैक्षणिक संस्थानों, सरकारी एवं अन्य संगठनों के प्रायोजित उम्मीदवारों को भी प्रोत्साहित करता है । यह संयुक्त पर्यवेक्षण एवं दल प्रयास के प्रणाली के माध्यम से अंतर अनुशासनिक क्षेत्रों में अनुसंधान को बढ़ावा देता है ।

प्रोग्राम के लिए संभावित उम्मीदवार - Prospective Candidates for the Programme

प्रोग्राम के डिजाइन में लचीलापन प्राकृतिक है । यह तीन श्रेणियों के उम्मीदवारों को प्रवेश देता है, सीधे, बाहरी एवं प्रायोजित ।

सीधे उम्मीदवार - Direct Candidates

ठोस शैक्षणिक पृष्ठभूमि और अनुसंधान की सामर्थ्य वाले सभी पात्र उम्मीदवार जो नीटी में पूर्णकालिक अनुसंधान विद्यार्थियों के रुप में फेलो कार्यक्रम करना चाहते हों वे मासिक छात्रवृत्ति और वार्षिक आकस्मिकता अनुदान (कंटिंजेंसी ग्रांट) पाने के हकदार हैं ।

बाहरी एवं प्रायोजित उम्मीदवार - External and Sponsored Candidates

ठोस शैक्षणिक पृष्ठभूमि और अनुसंधान की सामर्थ्य वाले सभी पात्र उम्मीदवार जो नीटी में पूर्णकालिक अनुसंधान विद्यार्थियों के रुप में फेलो कार्यक्रम करना चाहते हों उन्हें नीटी के कैम्पस में छ: महीनों की आवासीय अपेक्षा पूरी करना चाहिए ।